Acharya Manoj Awasthi Ji Maharaj

छेड़छाड़ का विरोध करने पर शोहदों ने युवती को घसीट कर बीच चौराहे पर पीटा और कपड़े फाड़े, विरोध में भाई का सिर फोड़ा|

0

लखनऊ—लखनऊ के हसनगंज थाना क्षेत्र में शोहदों ने घर के बाहर खड़ी युवती को सड़क पर खींच लिया। इसके बाद छेड़खानी की और उसके कपड़े फाड़ दिए। युवती और उसके भाई ने विरोध किया तो उस पिटाई कर दी। शोहदों ने युवती के भाई पर ईंट से वार कर सिर फोड़ दिया। जबकि युवती युवती को नाखूनों से नोच डाला और कपड़े फाड़ दिए। पीड़ित परिवार की तहरीर पर चार नामजद और आधा दर्जन अज्ञात के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। प्रभारी निरीक्षक हसनगंज अंबर सिंह ने बताया कि उसके भाई पर जानलेवा हमले की सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। इसके साथ ही आरोपियों की तलाश शुरू हो गई है। तहरीर के आधार पर एहसान, आजाद सहित आधा दर्जन से अधिक बदमाशों के खिलाफ बलवा, मारपीट एससीएसटी सहित कई धाराओं में केस दर्ज किया गया है| जानकारी के अनुसार घटना हसनगंज थाना क्षेत्र के त्रिवेणी नगर प्रथम की है। यहां 22 वर्षीय युवती रात 8:00 बजे गेट पर खड़ी थी। इस बीच मोहल्ले का एहसान अंसारी उर्फ छोटू उसका चचेरा भाई आजाद अंसारी पहुंचे और युवती का हाथ पकड़ कर सड़क की तरफ खींच लिया। इसके बाद दोनों छेड़ने लगे। विरोध पर लातों से युवती को पीटकर कपड़े फाड़ दिए। शोर सुनकर युवती का भाई बचाने दौड़ा तो दोनों ने उस पर पथराव कर दिया। पीड़िता के परिजनों का आरोप है कि दोनों आरोपियों ने साथियों को बुला लिया। इसके बाद आधा दर्जन से अधिक शोहदे करीब 15 मिनट तक कॉलोनी में तांडव मचाते रहे। किसी की उनका विरोध करने की हिम्मत नहीं हुई। युवती के भाई को अधमरा कर दिया। इसके बाद धमकाते हुए भाग निकले। घटना की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया।वही पीड़िता युवती ब्यूटी पार्लर का कोर्स कर रही है। दोनों युवक करीब 2 महीने से उसे छेड़ रहे थे। विरोध करने पर अक्सर दरवाजे पर आकर धमकी देते थे। 2 दिन पहले भी दोनों ने बदसलूकी की थी। विरोध पर धमकी दी थी। युवती की सहेली को भी एक दिन पहले आरोपियों ने छेड़छाड़ की थी। मामले की शिकायत थाने में की गई थी पर पुलिस ने कोई कार्यवाही नहीं की थी। स्थानीय लोगों के मुताबिक आरोपी ने बुधवार को पड़ोसी से मारपीट की थी। पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया था। गुरुवार को रात को बाहर जा रहा था। इसी बीच पीड़िता को घर के बाहर देश ने बदसलूकी की।सीएम योगी आदित्यनाथ के तेवर के बाद महिलाओं और लड़कियों से छेड़छाड़ की रोकथाम के लिए कई योजनाएं बनाई गई। लेकिन कुछ दिन बाद इनका क्या हुआ किसी को खबर नहीं। प्रदेश में भाजपा की सरकार बनते ही एंटी रोमियो दस्ता तैयार किया गया। शुरू में काफी सक्रिय रहा, लेकिन कुछ दिनों बाद इसका पता नहीं चला। हाल ही में एसपी ने शक्ति मोबाईल योजना शुरू की। राजधानी में युवतियों और महिलाओं में होने वाली छेड़छाड़ पर रोक लगाने के लिए इसकी शुरुआत की गई थी। करीब महीने तक सड़कों पर शक्ति मोबाईल दिखता रहा। इसके बाद शक्ति मोबाइल थाने की शोभा बढ़ा रहे हैं। पुलिस की कार्यप्रणाली से महिलाओं की सुरक्षा पर सवाल खड़ा हो गया है। अब देखने वाली बात ये होगी कि शोहदे कब गिरफ्तार हो पते हैं।

About Author

Leave A Reply