Acharya Manoj Awasthi Ji Maharaj

नेजल स्प्रे का ज्यादा इस्तेमाल है खतरनाक

0

बदलते मौसम में सर्दी-जुकाम की वजह से नाक में खुजली या ऐलर्जी होने की वजह से अक्सर लोग नेजल स्प्रे का इस्तेमाल करते हैं और इसका उपयोग दिनों दिन बढ़ भी रहा है। लेकिन शायद आप यह नहीं जानते हैं कि नेजल स्प्रे के इस्तेमाल के कई नुकसान भी हैं। आगे की तस्वीरों में जानें, नेजल स्प्रे से होने वाले नुकसान और सर्दी-जुकाम से निपटने के घरेलू तरीकों के बारे में…

दरअसल, नेजल स्प्रे का उतना ही इस्तेमाल करना चाहिए जितना डॉक्टरों द्वारा कहा जाता है। इससे अधिक इस्तेमाल से हम इसके आदी होने लगते हैं। परिणामस्वरूप हल्का सा जुकाम होने पर भी हम बिना प्रिस्क्रिप्शन नेजल स्प्रे खरीद लाते हैं। तीन दिन से ज्यादा नेजल स्प्रे का इस्तेमाल हानिकारक हो सकता है। साथ ही अगर आपको हाई ब्लड प्रेशर, थायरॉइड या पेशाब से जुड़ी कोई बीमारी है तो नेजल स्प्रे के इस्तेमाल से दूर रहें। यह स्प्रे ब्लड प्रेशर बढ़ा सकता है जिससे आपकी तबियत सुधरने की बजाय और बिगड़ सकती है। साथ ही नेजल स्प्रे के इस्तेमाल से नर्वसनेस बढ़ती है, नींद आने में परेशानी होती है।

स्प्रे अस्थायी रूप से आपकी सर्दी या जुकाम में राहत दे सकता है। लेकिन स्थायी आराम के लिए इसके उपयोग से दूर रहना चाहिए। इसके ज्यादा इस्तेमाल से सिरदर्द और खांसी तो होती है, साथ ही साइनस जैसी गंभीर बीमारी भी चपेट में ले लेती है। नेजल स्प्रे के इस्तेमाल से नेजल पैसेज सूज जाता है और वहां रक्त संचार की कमी होने लगती है।

अदरक की चाय
अदरक की चाय सर्दी-जुकाम में बड़ी राहत प्रदान करती है। अदरक को बिल्कुल बारीक कर लें और उसमें एक कप गरम पानी या दूध मिलाएं। उसे कुछ देर तक उबालने के बाद पी लें।

दो चम्मच शहद में एक चम्मच नींबू का रस एक ग्लास गुनगुने पानी या फिर गर्म दूध में मिलाकर पीने से सर्दी-जुकाम में काफी लाभ होता है। इसमें एलिसिन नामक एक रसायन होता है जो ऐंटि-बैक्टीरियल, ऐंटि-वायरल और ऐंटि-फंगल होता है। सर्दी जुकाम के संक्रमण को लहसुन तेजी से दूर करता है।

About Author

Leave A Reply